विधि तृतीय वर्ष के विद्यार्थियों का ऑनलाइन मूट कोर्ट का आयोजन

डॉ. नागेन्द्र सिंह विधि महाविद्यालय भारतीय विद्या मंदिर बांसवाड़ा में विधि के छात्रों द्वारा प्रायोगिक ज्ञान हेतु आन लाईन प्लेटफॉर्म गूगल मीट पर मूट कोर्ट का आयोजन दि. 01/05/2021 शनिवार को किया गया। विधि तृतीय वर्ष के विद्यार्थियों ने एक काल्पनिक वाद के माध्यम से दहेज हत्या" के मामले का सम्पूर्ण विचारण किया | मामले में भा.द.स. की धारा 304 (B) एवं 201/34 के अन्तर्गत अभियुक्तों पर मुकदमा चलाया गया | मूट कोर्ट में एल एल. बी. तृतीय वर्ष के छात्रों ने विभिन्न किरदारों के रूप में भाग लिया मूट कोर्ट संयोजक - विश्वदीप सिंह राठौड़, पीठासीन अधिकारी - सारिका हाड़ा, लोक अभियोजक - शुभम बोराना, बचावपक्ष अधिवक्ता - जयदेव सिंह चौहान, गवाह - शुभम जैन, सचिन कलाल, केसर सिंह राजावत, कलावती चरपोटा, बाबुलाल खाँट, राजेश आमोस अभियुक्तगण - खेमराज पारगी, दशरथ मईड़ा, कल्पना मालवीया, पेशकार - नितेश खाँट, अनिल पटेल थे । ऑनलाइन मूटकोर्ट में मुख्य अतिथि डॉ. शंभू सिंह राठौड़, प्राचार्य, सर प्रताप विधि महाविद्यालय, जोधपुर ने विद्यार्थियों की प्रस्तुती को सराहा एवं छात्रों को प्रोत्साहित करते हुए कहा की दक्षिणी राजस्थान अंचल के न्यूनतम संसाधनों की उप्लब्धताओं के साथ कोविड - 19 की विकटतम परिस्थितियों में उनका यह सराहनीय प्रयास था । कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए भारतीय विद्या मंदिर संस्थान, बाँसवाड़ा की सचिव श्रीमती निर्मला चेलावत ने विद्यार्थियों से कहा कि वे कोविड 19 की विकटतम परिस्थितियों में भी ऑनलाइन अध्ययन के जरिये अपने ज्ञान में निरंतर वृद्धि कर रहे है और उन्होंने विद्यार्थियों के ऑनलाइन मूटकोर्ट आयोजित करने के प्रयास की सराहना की। महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. क्षेत्रपालसिंह ने मूटकोर्ट के प्रारंभ में अतिथियों का स्वागत किया किया। मूटकोर्ट का संचालन सहायक आचार्य अपरा प्रजापत ने किया। कार्यक्रम में महाविद्यालय के सहायक आचार्यगण डा. ललित कुमार मीणा, डा. अंकिता जैन, सुमन जैन, योगिता सिकरवार, एडवोकेट प्रवीण सिंह सोलंकी, एडवोकेट सोलम जॉन एवं राजन सामर उपस्थित थे। कार्यक्रम के अंत मे सहायक आचार्य एवं मूट कोर्ट प्रभारी डॉ. ओम प्रकाश ने उपस्थिति अथितियों एवं विद्यार्थियों को धन्यवाद ज्ञापित किया।

NEWS PHOTO: